Tech & Travel

Follow for more updates

Up: Up To 30 Places Causing Ruckus After Panchayat Election Results, Two Dead – यूपी : पंचायत चुनाव परिणाम आने के बाद से अब तक 30 स्थानों पर बवाल, दो की मौत

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ
Published by: पंकज श्रीवास्‍तव
Updated Thu, 06 May 2021 12:22 AM IST

सार

पंचायत चुनाव का परिणाम आने के बाद से प्रदेश में अब तक कुल 30 स्थानों पर मारपीट और फायरिंग की घटनाएं हुई हैं। इसमें मतगणना के दौरान या मतगणना के बाद 25 घटनाएं हुई।

यूपी पंचायत चुनाव
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

पंचायत चुनाव का परिणाम आने के बाद से प्रदेश में अब तक कुल 30 स्थानों पर मारपीट और फायरिंग की घटनाएं हुई हैं। इसमें मतगणना के दौरान या मतगणना के बाद 25 घटनाएं हुईं। इसके अलावा पांच अन्य घटनाएं विजय जुलूस निकालने के दौरान हुई हैं जिसमें दो की जान भी गई। 

पुलिस मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार मुरादाबाद, प्रयागराज, गोरखपुर, बस्ती, संतकबीरनगर, खीरी, अयोध्या, बागपत, सहारनपुर और मिर्जापुर में घटनाएं हुई हैं। अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि अब तक दो मुकदमे हत्या, सात मुकदमे हत्या के प्रयास, पांच मामले पुलिस के साथ भिड़ंत, 11 बलवे और पांच अन्य मारपीट की घटनाओं के संबंध में दर्ज किए गए हैं। इन घटनाओं में 35 लोग गिरफ्तार की जा चुके हैं। 

राज्य निर्वाचन आयोग ने निर्देश के क्रम में किसी भी तरह के विजय जुलूस और भीड़ इकट्ठा करने पर पाबंदी थी। ऐसे में चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के इन मामलों में भी कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं।

विस्तार

पंचायत चुनाव का परिणाम आने के बाद से प्रदेश में अब तक कुल 30 स्थानों पर मारपीट और फायरिंग की घटनाएं हुई हैं। इसमें मतगणना के दौरान या मतगणना के बाद 25 घटनाएं हुईं। इसके अलावा पांच अन्य घटनाएं विजय जुलूस निकालने के दौरान हुई हैं जिसमें दो की जान भी गई। 

पुलिस मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार मुरादाबाद, प्रयागराज, गोरखपुर, बस्ती, संतकबीरनगर, खीरी, अयोध्या, बागपत, सहारनपुर और मिर्जापुर में घटनाएं हुई हैं। अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि अब तक दो मुकदमे हत्या, सात मुकदमे हत्या के प्रयास, पांच मामले पुलिस के साथ भिड़ंत, 11 बलवे और पांच अन्य मारपीट की घटनाओं के संबंध में दर्ज किए गए हैं। इन घटनाओं में 35 लोग गिरफ्तार की जा चुके हैं। 

राज्य निर्वाचन आयोग ने निर्देश के क्रम में किसी भी तरह के विजय जुलूस और भीड़ इकट्ठा करने पर पाबंदी थी। ऐसे में चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के इन मामलों में भी कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं।

Source link