Tech & Travel

Follow for more updates

Two Cats Ambulance Personnel Arrested For Black Marketing Of Oxygen In Delhi – कालाबाजारी: कैट्स के कर्मचारी 40 हजार और 90 हजार में बेच रहे थे ऑक्सीजन सिलिंडर, गिरफ्तार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Published by: Vikas Kumar
Updated Tue, 11 May 2021 01:37 AM IST

सार

आरोपियों की पहचान पवन कुमार और विपिन नागर के रूप में हुई है। पवन के पास से पुलिस ने 15 और 50 लीटर के दो ऑक्सीजन सिलिंडर बरामद किए हैं। वह 40 और 90 हजार रुपये में इनका सौदा कर रहा था। सिलिंडर के अलावा 32 पीपीई किट और एक लाख रुपये नकद भी बरामद किए गए हैं।

आरोपियों पवन कुमार और विपिन नागर
– फोटो : amar ujala

ख़बर सुनें

कोविड महामारी के बीच जिन लोगों से मदद की उम्मीद की जा रही है, वे भी कालाबाजारी पर उतर आए तो क्या होगा। दक्षिण जिला के अंबेडकर नगर थाना पुलिस ने ऑक्सीजन सिलिंडर की कालाबाजारी करने के आरोप में कैट्स एंबुलेंस के दो कर्मचारियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान पवन कुमार और विपिन नागर के रूप में हुई है। पवन के पास से पुलिस ने 15 और 50 लीटर के दो ऑक्सीजन सिलिंडर बरामद किए हैं। वह 40 और 90 हजार रुपये में इनका सौदा कर रहा था। सिलिंडर के अलावा 32 पीपीई किट और एक लाख रुपये नकद भी बरामद किए गए हैं।

दक्षिण जिला पुलिस उपायुक्त अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि छह मई को अंबेडकर नगर इलाके में सुमन नामक एक महिला ने पीसीआर कॉल कर पुलिस को शिकायत दी थी कि उसे परिजनों के लिए ऑक्सीजन सिलिंडर की जरूरत थी। उसने व्हाट्सएप पर एक नंबर देखकर उससे संपर्क किया। आरोपी ने 50 लीटर सिलिंडर के 90 हजार रुपये बताए। पीड़िता ने बाद में सिलिंडर लेने की बात कर पुलिस को खबर दी। सुमन की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी।  पीड़िता से मोबाइल नंबर लेकर टेक्नीकल सर्विलांस की मदद से आरोपी की तलाश शुरू की। इसके बाद पवन कुमार (21) को दक्षिणपुरी इलाके से दबोच लिया।  

आरोपी ने बताया कि वह कैट्स एंबुलेंस में पिछले करीब दो सालों से पैरा मेडिक्स स्टाफ की नौकरी करता है। उसे एंबुलेंस में गंभीर मरीजों के लिए ऑक्सीजन सिलिंडर मिलते हैं, इनको वह अपने दो सहयोगी विपिन नागर और रोहित नागर की मदद से उड़ा लेता है। वहीं से उसे भरे हुए सिलिंडर मिलते हैं। पुलिस ने पवन को कोर्ट में पेश कर दो दिन के रिमांड पर लिया। बाद में उसके पेटीएम खाते से पता चला कि आरोपी ने  पिछले कुछ समय में मोटी रकम का लेन-देने अपने दो अन्य बैंक खातों में किया। पवन से पूछताछ के बाद दूसरे कैट्स एंबुलेंस कर्मचारी विपिन नागर को  भी दबोच लिया। 

विस्तार

कोविड महामारी के बीच जिन लोगों से मदद की उम्मीद की जा रही है, वे भी कालाबाजारी पर उतर आए तो क्या होगा। दक्षिण जिला के अंबेडकर नगर थाना पुलिस ने ऑक्सीजन सिलिंडर की कालाबाजारी करने के आरोप में कैट्स एंबुलेंस के दो कर्मचारियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान पवन कुमार और विपिन नागर के रूप में हुई है। पवन के पास से पुलिस ने 15 और 50 लीटर के दो ऑक्सीजन सिलिंडर बरामद किए हैं। वह 40 और 90 हजार रुपये में इनका सौदा कर रहा था। सिलिंडर के अलावा 32 पीपीई किट और एक लाख रुपये नकद भी बरामद किए गए हैं।

दक्षिण जिला पुलिस उपायुक्त अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि छह मई को अंबेडकर नगर इलाके में सुमन नामक एक महिला ने पीसीआर कॉल कर पुलिस को शिकायत दी थी कि उसे परिजनों के लिए ऑक्सीजन सिलिंडर की जरूरत थी। उसने व्हाट्सएप पर एक नंबर देखकर उससे संपर्क किया। आरोपी ने 50 लीटर सिलिंडर के 90 हजार रुपये बताए। पीड़िता ने बाद में सिलिंडर लेने की बात कर पुलिस को खबर दी। सुमन की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी।  पीड़िता से मोबाइल नंबर लेकर टेक्नीकल सर्विलांस की मदद से आरोपी की तलाश शुरू की। इसके बाद पवन कुमार (21) को दक्षिणपुरी इलाके से दबोच लिया।  

आरोपी ने बताया कि वह कैट्स एंबुलेंस में पिछले करीब दो सालों से पैरा मेडिक्स स्टाफ की नौकरी करता है। उसे एंबुलेंस में गंभीर मरीजों के लिए ऑक्सीजन सिलिंडर मिलते हैं, इनको वह अपने दो सहयोगी विपिन नागर और रोहित नागर की मदद से उड़ा लेता है। वहीं से उसे भरे हुए सिलिंडर मिलते हैं। पुलिस ने पवन को कोर्ट में पेश कर दो दिन के रिमांड पर लिया। बाद में उसके पेटीएम खाते से पता चला कि आरोपी ने  पिछले कुछ समय में मोटी रकम का लेन-देने अपने दो अन्य बैंक खातों में किया। पवन से पूछताछ के बाद दूसरे कैट्स एंबुलेंस कर्मचारी विपिन नागर को  भी दबोच लिया। 

Source link