Tech & Travel

Follow for more updates

R Ashwin Wife Says That 10 Family Members Struggles Against Covid19 – कोरोना का कहर : क्रिकेटर अश्विन की पत्नी ने बताया, घर के दस सदस्य हैं संक्रमित

पीटीआई, नई दिल्ली
Published by: संजीव कुमार झा
Updated Fri, 30 Apr 2021 11:06 PM IST

सार

 दिल्ली कैपिटल्स के स्पिनर अश्विन ने कोरोना से जूझ रहे परिवार की सहायता के लिये रविवार को आईपीएल बीच में ही छोड़ने का फैसला किया था ।

ख़बर सुनें

भारतीय आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की पत्नी प्रीति नारायणन ने शुक्रवार को कहा कि उनके परिवार के दस सदस्य पिछले सप्ताह कोरोना पॉजिटिव पाए गए । दिल्ली कैपिटल्स के स्पिनर अश्विन ने कोरोना से जूझ रहे परिवार की सहायता के लिये रविवार को आईपीएल बीच में ही छोड़ने का फैसला किया था ।

प्रीति ने सिलसिलेवार ट्वीट में बताया कि उनका परिवार किन हालात से गुजरा है । उन्होंने कहा कि एक ही सप्ताह में परिवार के छह बड़े और चार बच्चे पॉजिटिव हो गए । अलग अलग अस्पतालों में सभी भर्ती थे । पूरे सप्ताह यह बुरा सपना जारी रहा । तीन में से एक अभिभावक घर लौट आए हैं। उन्होंने कहा कि टीका लगवा लीजिये । अपनी और अपने परिवार की इस महामारी से सुरक्षा कीजिये ।

प्रीति ने कहा कि मानसिक रूप से स्वस्थ होने की बजाय शारीरिक रूप से स्वस्थ होना आसान है ।पांचवें से आठवां दिन सबसे खराब समय था । हर कोई मदद की पेशकश कर रहा था लेकिन कोई आपके पास नहीं था । यह बीमारी आपको बिल्कुल अकेला कर देती है 

विस्तार

भारतीय आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की पत्नी प्रीति नारायणन ने शुक्रवार को कहा कि उनके परिवार के दस सदस्य पिछले सप्ताह कोरोना पॉजिटिव पाए गए । दिल्ली कैपिटल्स के स्पिनर अश्विन ने कोरोना से जूझ रहे परिवार की सहायता के लिये रविवार को आईपीएल बीच में ही छोड़ने का फैसला किया था ।

प्रीति ने सिलसिलेवार ट्वीट में बताया कि उनका परिवार किन हालात से गुजरा है । उन्होंने कहा कि एक ही सप्ताह में परिवार के छह बड़े और चार बच्चे पॉजिटिव हो गए । अलग अलग अस्पतालों में सभी भर्ती थे । पूरे सप्ताह यह बुरा सपना जारी रहा । तीन में से एक अभिभावक घर लौट आए हैं। उन्होंने कहा कि टीका लगवा लीजिये । अपनी और अपने परिवार की इस महामारी से सुरक्षा कीजिये ।

प्रीति ने कहा कि मानसिक रूप से स्वस्थ होने की बजाय शारीरिक रूप से स्वस्थ होना आसान है ।पांचवें से आठवां दिन सबसे खराब समय था । हर कोई मदद की पेशकश कर रहा था लेकिन कोई आपके पास नहीं था । यह बीमारी आपको बिल्कुल अकेला कर देती है 

Source link