Tech & Travel

Follow for more updates

No Vaccination For 18 Plus From May 1 In Tamil Nadu And Other Southern States – दक्षिणी राज्य: 18 साल से अधिक उम्र के लोगों का आज से नहीं हो पाएगा टीकाकरण, ये है वजह

ख़बर सुनें

देश में 18 से 44 साल तक की आयु के लोगों के एक मई से होने वाले कोविड रोधी टीकाकरण की दक्षिणी राज्यों में खुराक की आपूर्ति के अभाव में शनिवार को शुरुआत होने की उम्मीद नहीं है।

तमिलनाडु, केरल, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और पुडुचेरी ने कहा कि उनके पास टीकों का पर्याप्त भंडार नहीं है। टीकों की आपूर्ति पर अनिश्चितता की वजह से तमिलनाडु सरकार ने एक मई को होने वाले टीकाकरण को शुक्रवार को टालने का फैसला किया।

तमिलनाडु के स्वास्थ्य सचिव डॉक्टर जे राधाकृष्णन ने कहा कि कल तक इंतजार करने (और लोगों को निराश करने) की जगह मैं अब स्पष्ट करना चाहता हूं कि हमें नहीं पता कि टीकों की तमिलनाडु सरकार द्वारा मांगी गईं 1.5 करोड़ खुराकों में से कितनी खुराक मिलेंगी और कब मिलेंगी।

यह पूछे जाने पर कि क्या कल टीकाकरण होगा, उन्होंने कहा कि हमें नहीं पता कि कल हमें टीके मिलेंगे या नहीं और कितने मिलेंगे। राज्य सरकार को टीकों की मांग पर केंद्र से अभी जवाब नहीं मिला है।

वहीं, केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने मुद्दे पर कहा कि जब टीकों की कमी है तो राज्य अपने आप कोई फैसला नहीं कर सकता।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने कहा कि संबंधित आयु समूह के टीकाकरण में विलंब हो सकता है क्योंकि टीके अभी तक नहीं मिले हैं।

वहीं, आंध्र प्रदेश के प्रधान सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अनिल कुमार सिंघल ने कहा कि टीकों की कमी की वजह से टीकाकरण के तीसरे चरण की शुरुआत करने में राज्य असमर्थ है।

पुडुचेरी के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के एक प्रवक्ता ने कहा कि एक मई को संबंधित आयु समूह के टीकाकरण के लिए टीकों की खेप नहीं पहुंची है और इस वजह से एक मई को होने वाला टीकाकरण कार्यक्रम विलंबित हो गया है।

विस्तार

देश में 18 से 44 साल तक की आयु के लोगों के एक मई से होने वाले कोविड रोधी टीकाकरण की दक्षिणी राज्यों में खुराक की आपूर्ति के अभाव में शनिवार को शुरुआत होने की उम्मीद नहीं है।

तमिलनाडु, केरल, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और पुडुचेरी ने कहा कि उनके पास टीकों का पर्याप्त भंडार नहीं है। टीकों की आपूर्ति पर अनिश्चितता की वजह से तमिलनाडु सरकार ने एक मई को होने वाले टीकाकरण को शुक्रवार को टालने का फैसला किया।

तमिलनाडु के स्वास्थ्य सचिव डॉक्टर जे राधाकृष्णन ने कहा कि कल तक इंतजार करने (और लोगों को निराश करने) की जगह मैं अब स्पष्ट करना चाहता हूं कि हमें नहीं पता कि टीकों की तमिलनाडु सरकार द्वारा मांगी गईं 1.5 करोड़ खुराकों में से कितनी खुराक मिलेंगी और कब मिलेंगी।

यह पूछे जाने पर कि क्या कल टीकाकरण होगा, उन्होंने कहा कि हमें नहीं पता कि कल हमें टीके मिलेंगे या नहीं और कितने मिलेंगे। राज्य सरकार को टीकों की मांग पर केंद्र से अभी जवाब नहीं मिला है।

वहीं, केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने मुद्दे पर कहा कि जब टीकों की कमी है तो राज्य अपने आप कोई फैसला नहीं कर सकता।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने कहा कि संबंधित आयु समूह के टीकाकरण में विलंब हो सकता है क्योंकि टीके अभी तक नहीं मिले हैं।

वहीं, आंध्र प्रदेश के प्रधान सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अनिल कुमार सिंघल ने कहा कि टीकों की कमी की वजह से टीकाकरण के तीसरे चरण की शुरुआत करने में राज्य असमर्थ है।

पुडुचेरी के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के एक प्रवक्ता ने कहा कि एक मई को संबंधित आयु समूह के टीकाकरण के लिए टीकों की खेप नहीं पहुंची है और इस वजह से एक मई को होने वाला टीकाकरण कार्यक्रम विलंबित हो गया है।

Source link