Tech & Travel

Follow for more updates

Next Batch Of Three Rafales Leave From France To India Today – वायुसेना की बढ़ेगी ताकत : तीन और राफेल लड़ाकू विमान फ्रांस से भारत के लिए हुआ रवाना

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Published by: संजीव कुमार झा
Updated Wed, 05 May 2021 05:01 PM IST

सार

भारतीय वायुसेना ने बताया कि यह राफेल एयरक्राफ्ट का छठा बैच है जो फ्रांस से 8 हजार किमी की दूरी तय कर भारत पहुंचेगा।

ख़बर सुनें

भारतीय वायुसेना की ताकत बढ़ाने के लिए तीन और राफेल लड़ाकू विमान बुधवार को फ्रांस से भारत के लिए रवाना हो गया है। इस बात की जानकारी फ्रांस में भारतीय दूतावास ने ट्वीट कर दी है। यह तीनों राफेल विमान फ्रांस के मेरिग्नैक-बोर्डो एयरबेस से उड़ान भरे हैं और ये आज देर शाम तक भारत में जामगर एयरबेस पर लैंड करेंगे। जामनगर में लैंड करने के बाद ये विमान अंबाला के लिए उड़ान भरेंगे। तीन और राफेल विमानों के शामिल होने से  इनकी कुल संख्या 20 पहुंच जाएगी।

वहीं भारतीय वायुसेना ने बताया कि यह राफेल एयरक्राफ्ट का छठा बैच है जो फ्रांस से 8 हजार किमी की दूरी तय कर भारत पहुंचेगा। इस दौरान रास्ते में आसमान में ही  फ्रांस और यूएई की वायुसेना के जवान जेट में ईंधन भरेंगे।  

29 जुलाई 2020 को पहला जत्था पहुंचा था भारत
पांच राफेल विमानों का पहला जत्था 29 जुलाई 2020 को भारत पहुंचा था। इन विमानों को पिछले साल 10 सितंबर को अंबाला में आधिकारिक रूप से भारतीय वायुसेना में शामिल किया गया था। तीन राफेल विमानों का दूसरा जत्था तीन नवंबर को भारत पहुंचा था, जबकि तीसरा जत्था 27 जनवरी 2021 को पहुंचा था। वहीं चौथा जत्था 31 मार्च की शाम को भारत पहुंचा था।  

भारत और फ्रांस के बीच अब तक 36 राफेल की डील
बता दें कि भारत और फ्रांस के बीच अब तक 36 राफेल लड़ाकू विमान की डील है।  उम्मीद जताई जा रही है कि फ्रांस द्वारा वर्ष 2022 तक तय समय में सारे लड़ाकू विमान भारत को सौंप दिए जाएंगे। 
 

विस्तार

भारतीय वायुसेना की ताकत बढ़ाने के लिए तीन और राफेल लड़ाकू विमान बुधवार को फ्रांस से भारत के लिए रवाना हो गया है। इस बात की जानकारी फ्रांस में भारतीय दूतावास ने ट्वीट कर दी है। यह तीनों राफेल विमान फ्रांस के मेरिग्नैक-बोर्डो एयरबेस से उड़ान भरे हैं और ये आज देर शाम तक भारत में जामगर एयरबेस पर लैंड करेंगे। जामनगर में लैंड करने के बाद ये विमान अंबाला के लिए उड़ान भरेंगे। तीन और राफेल विमानों के शामिल होने से  इनकी कुल संख्या 20 पहुंच जाएगी।

वहीं भारतीय वायुसेना ने बताया कि यह राफेल एयरक्राफ्ट का छठा बैच है जो फ्रांस से 8 हजार किमी की दूरी तय कर भारत पहुंचेगा। इस दौरान रास्ते में आसमान में ही  फ्रांस और यूएई की वायुसेना के जवान जेट में ईंधन भरेंगे।  

29 जुलाई 2020 को पहला जत्था पहुंचा था भारत

पांच राफेल विमानों का पहला जत्था 29 जुलाई 2020 को भारत पहुंचा था। इन विमानों को पिछले साल 10 सितंबर को अंबाला में आधिकारिक रूप से भारतीय वायुसेना में शामिल किया गया था। तीन राफेल विमानों का दूसरा जत्था तीन नवंबर को भारत पहुंचा था, जबकि तीसरा जत्था 27 जनवरी 2021 को पहुंचा था। वहीं चौथा जत्था 31 मार्च की शाम को भारत पहुंचा था।  

भारत और फ्रांस के बीच अब तक 36 राफेल की डील

बता दें कि भारत और फ्रांस के बीच अब तक 36 राफेल लड़ाकू विमान की डील है।  उम्मीद जताई जा रही है कि फ्रांस द्वारा वर्ष 2022 तक तय समय में सारे लड़ाकू विमान भारत को सौंप दिए जाएंगे। 

 

Source link