Tech & Travel

Follow for more updates

Nda In Another Southern State: Congress Gets Just Two Seats, Its Partner Dmk Five – दक्षिण के एक और राज्य में एनडीए: कांग्रेस को मिलीं महज दो सीटें, साझेदार द्रमुक को पांच

अमर उजाला ब्यूरो, नई दिल्ली
Published by: Amit Mandal
Updated Mon, 03 May 2021 09:19 AM IST

सार

कर्नाटक के बाद दक्षिण के एक और राज्य में भाजपानीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार बनाने जा रहा है। एनआर कांग्रेस और अन्नाद्रमुक के गठबंधन को 30 में से 20 से अधिक सीटें मिली हैं।

ख़बर सुनें

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री एन रंगास्वामी की पार्टी एनआर कांग्रेस ने जिन 16 सीटों पर चुनाव लड़ा उनमें से 10 सीटों पर जीत दर्ज की है। वही 9 सीटों पर लड़ी भाजपा 5 सीटों पर आगे थी। उनकी सहयोगी पार्टी अन्नाद्रमुक को किसी भी सीट पर बढ़त नहीं मिली जबकि पिछले चुनाव में उसे 16 प्रतिशत वोट मिले थे।

रंगास्वामी पड़े द्रमुक गठबंधन पर भारी
पुडुचेरी में रंगास्वामी की लोकप्रियता के सामने कांग्रेस और द्रमुक का गठबंधन कहीं नहीं ठहर पाया। खास तौर पर इसलिए भी क्योंकि निवर्तमान मुख्यमंत्री वी नारायणसामी को कांग्रेस ने टिकट ही नहीं दिया है। कांग्रेस के खेमे से कुछ विधायकों के पाला बदलने की वजह से नारायणसामी की सरकार चुनाव से महज एक महीने पहले गिर गई थी। लोगों की सहानुभूति मिल सकती थी लेकिन कांग्रेस ने उन्हें चुनाव से दूर ही रखा है। वहीं, रंगास्वामी की लोकप्रियता ज्यादा है। वह साइकिल पर चलते हैं। सड़क के किनारे किसी भी चाय की दुकान पर लोगों के बीच नजर आते हैं।

पिछले चुनाव में अन्नाद्रमुक ने 30 सीटों पर चुनाव लड़ा था और उसे केवल 4 पर विजय मिली थी। रंगास्वामी कांग्रेस ने भी 30 में से सिर्फ 8 पर ही जीत हासिल की थी, जबकि भाजपा और पीएमके को एक भी सीट नहीं मिली थी। पिछली बार कांग्रेस ने 21 सीटें लड़कर 15 जीती थीं, जबकि द्रमुक ने 9 में से केवल दो ही सीटें जीती थीं। इस बार कांग्रेस दो सीटें ही जीत पाई है। जबकि द्रमुक को पांच सीटें मिली है। राज्य विधानसभा की तीन सीटें उपराज्यपाल मनोनीत करते हैं। 

विस्तार

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री एन रंगास्वामी की पार्टी एनआर कांग्रेस ने जिन 16 सीटों पर चुनाव लड़ा उनमें से 10 सीटों पर जीत दर्ज की है। वही 9 सीटों पर लड़ी भाजपा 5 सीटों पर आगे थी। उनकी सहयोगी पार्टी अन्नाद्रमुक को किसी भी सीट पर बढ़त नहीं मिली जबकि पिछले चुनाव में उसे 16 प्रतिशत वोट मिले थे।

रंगास्वामी पड़े द्रमुक गठबंधन पर भारी

पुडुचेरी में रंगास्वामी की लोकप्रियता के सामने कांग्रेस और द्रमुक का गठबंधन कहीं नहीं ठहर पाया। खास तौर पर इसलिए भी क्योंकि निवर्तमान मुख्यमंत्री वी नारायणसामी को कांग्रेस ने टिकट ही नहीं दिया है। कांग्रेस के खेमे से कुछ विधायकों के पाला बदलने की वजह से नारायणसामी की सरकार चुनाव से महज एक महीने पहले गिर गई थी। लोगों की सहानुभूति मिल सकती थी लेकिन कांग्रेस ने उन्हें चुनाव से दूर ही रखा है। वहीं, रंगास्वामी की लोकप्रियता ज्यादा है। वह साइकिल पर चलते हैं। सड़क के किनारे किसी भी चाय की दुकान पर लोगों के बीच नजर आते हैं।

पिछले चुनाव में अन्नाद्रमुक ने 30 सीटों पर चुनाव लड़ा था और उसे केवल 4 पर विजय मिली थी। रंगास्वामी कांग्रेस ने भी 30 में से सिर्फ 8 पर ही जीत हासिल की थी, जबकि भाजपा और पीएमके को एक भी सीट नहीं मिली थी। पिछली बार कांग्रेस ने 21 सीटें लड़कर 15 जीती थीं, जबकि द्रमुक ने 9 में से केवल दो ही सीटें जीती थीं। इस बार कांग्रेस दो सीटें ही जीत पाई है। जबकि द्रमुक को पांच सीटें मिली है। राज्य विधानसभा की तीन सीटें उपराज्यपाल मनोनीत करते हैं। 

Source link