Tech & Travel

Follow for more updates

Due To Covid Crisis Neet Pg Postponed, Prime Minister Office Issued Official Statement – नीट पीजी 2021: चार महीने के लिए स्थगित, कोविड वार्ड में कार्य करने पर मिलेगी यह विशेष सुविधा

एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला
Published by: वर्तिका तोलानी
Updated Mon, 03 May 2021 04:00 PM IST

सार

मेडिकल के स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए आयोजित होने वाली प्रवेश परीक्षा नीट पीजी को चार महीने के लिए स्थगित कर दिया गया है। प्रधानमंत्री कार्यालय ने जारी की अधिसूचना।

ख़बर सुनें

मेडिकल के स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए आयोजित होने वाली प्रवेश परीक्षा नीट पीजी को चार महीने के लिए स्थगित कर दिया गया है। सोमवार को प्रधानमंत्री कार्यालय ने इस संबंध में अधिसूचना जारी की है। अधिसूचना के मुताबिक मेडिकल चिकित्सा कर्मियों की उपलब्धता बढ़ाने के लिए न्यूनतम चार महीने के लिए नीट पीजी की परीक्षा को टाल दिया गया है।  

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के मुताबिक एमबीबीएस के अंतिम वर्ष में पढ़ रहे छात्रों को टेलीकंस्लटेशन और कोरोना के हल्के लक्षण वालों मरीजों की देख-रेख के लिए उपयोग किया जा सकता है। वहीं बीएससी/जीएनएम की पढ़ाई करने वालों को सीनियर डॉक्टर्स और नर्सों की देख-रेख में पूर्णकालिक कोविड नर्सिंग में रखा जा सकता है।

100 दिनों की कोविड ड्यूटी देने वाले चिकित्सा कर्मियों को नियमित सरकारी भर्तियों में प्राथमिकता दी जाएगी। साथ ही प्रधानमंत्री के प्रतिष्ठित कोविड राष्ट्रीय सेवा सम्मान से सम्मानित भी किया जाएगा।

 

विस्तार

मेडिकल के स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए आयोजित होने वाली प्रवेश परीक्षा नीट पीजी को चार महीने के लिए स्थगित कर दिया गया है। सोमवार को प्रधानमंत्री कार्यालय ने इस संबंध में अधिसूचना जारी की है। अधिसूचना के मुताबिक मेडिकल चिकित्सा कर्मियों की उपलब्धता बढ़ाने के लिए न्यूनतम चार महीने के लिए नीट पीजी की परीक्षा को टाल दिया गया है।  

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के मुताबिक एमबीबीएस के अंतिम वर्ष में पढ़ रहे छात्रों को टेलीकंस्लटेशन और कोरोना के हल्के लक्षण वालों मरीजों की देख-रेख के लिए उपयोग किया जा सकता है। वहीं बीएससी/जीएनएम की पढ़ाई करने वालों को सीनियर डॉक्टर्स और नर्सों की देख-रेख में पूर्णकालिक कोविड नर्सिंग में रखा जा सकता है।

100 दिनों की कोविड ड्यूटी देने वाले चिकित्सा कर्मियों को नियमित सरकारी भर्तियों में प्राथमिकता दी जाएगी। साथ ही प्रधानमंत्री के प्रतिष्ठित कोविड राष्ट्रीय सेवा सम्मान से सम्मानित भी किया जाएगा।

 

Source link