Tech & Travel

Follow for more updates

Bjp Mp Tejasvi Surya Hits On Municipal Corp Over Bribe For Beds Scam Exposes – नाराजगी: भाजपा शासित नगर पालिका पर तेजस्वी सूर्या का निशाना, कहा- रिश्वत देकर मिल रहा अस्पतालों में बेड

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, बेंगलूरू
Published by: प्रशांत कुमार
Updated Wed, 05 May 2021 08:02 AM IST

सार

सूर्या के आरोप के बाद पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। जिसकी पहचना रोहित और नेत्र के रूप में हुई है। इनपर आरोप है कि वे एक बिस्तर के लिए 25 हजार और 50 हजार रुपए वसूल रहे थे।

ख़बर सुनें

बेंगलुरु दक्षिण से भाजपा सांसद तेजस्वी सूर्या ने कोरोना काल में अस्पतालों में बेड नहीं मिलने के लिए नगर पालिका को जिम्मेदार ठहराया है। तेजस्वी सूर्या का आरोप है कि नगरपालिका अधिकारी लोगों से रिश्वत लेकर बेड उपलब्ध करा रहे हैं। सूर्या के आरोप के बाद पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। जिसकी पहचना रोहित और नेत्र के रूप में हुई है। इनपर आरोप है कि वे एक बिस्तर के लिए 25 हजार और 50 हजार रुपए वसूल रहे थे।  पुलिस ने उनके खाते से 1.05 लाख रुपये बरामद किए हैं।

सूर्या ने आरोप लगाया था, ‘बीबीएमपी अधिकारियों और स्वास्थ्यकर्मियों से सांठगांठ से बिस्तरों को ‘खरीद-फरोख्त का काम चल रहा है।  उन्होंने कहा ‘बीबीएमपी (ब्रुहट महानगरपालिका) की बुकिंग साइट दिखा रही है कि सभी बिस्तर फुल हैं, लेकिन कई लोग अस्पताल से डिस्चार्ज हो रहे हैं। ऐसे में बिस्तर भरे होने की बात समझ से परे हैं। सूर्या ने आरोप लगाया कि बीबीएमपी अधिकारियों, आरोग्य मित्र और बाहरी लोग भी इस धंधे से जुड़े हुए हैं। बता दें कि कोरोना प्रभावित राज्यों में कर्नाटक भी शामिल है। बेंगलुरू में कोरोना की स्थिति लगातार खराब हो रही है। शहर के अस्पतालों में ऑक्सीजन और बेड्स की भारी किल्लत है। सूर्या के सवाल उठाने पर येदियुरप्पा सरकार ने नगर पालिका अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई का भरोसा दिया गया था। 

विस्तार

बेंगलुरु दक्षिण से भाजपा सांसद तेजस्वी सूर्या ने कोरोना काल में अस्पतालों में बेड नहीं मिलने के लिए नगर पालिका को जिम्मेदार ठहराया है। तेजस्वी सूर्या का आरोप है कि नगरपालिका अधिकारी लोगों से रिश्वत लेकर बेड उपलब्ध करा रहे हैं। सूर्या के आरोप के बाद पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। जिसकी पहचना रोहित और नेत्र के रूप में हुई है। इनपर आरोप है कि वे एक बिस्तर के लिए 25 हजार और 50 हजार रुपए वसूल रहे थे।  पुलिस ने उनके खाते से 1.05 लाख रुपये बरामद किए हैं।

सूर्या ने आरोप लगाया था, ‘बीबीएमपी अधिकारियों और स्वास्थ्यकर्मियों से सांठगांठ से बिस्तरों को ‘खरीद-फरोख्त का काम चल रहा है।  उन्होंने कहा ‘बीबीएमपी (ब्रुहट महानगरपालिका) की बुकिंग साइट दिखा रही है कि सभी बिस्तर फुल हैं, लेकिन कई लोग अस्पताल से डिस्चार्ज हो रहे हैं। ऐसे में बिस्तर भरे होने की बात समझ से परे हैं। सूर्या ने आरोप लगाया कि बीबीएमपी अधिकारियों, आरोग्य मित्र और बाहरी लोग भी इस धंधे से जुड़े हुए हैं। बता दें कि कोरोना प्रभावित राज्यों में कर्नाटक भी शामिल है। बेंगलुरू में कोरोना की स्थिति लगातार खराब हो रही है। शहर के अस्पतालों में ऑक्सीजन और बेड्स की भारी किल्लत है। सूर्या के सवाल उठाने पर येदियुरप्पा सरकार ने नगर पालिका अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई का भरोसा दिया गया था। 

Source link