Tech & Travel

Follow for more updates

Around 100 Villagers Including Children, Fell Ill Today After Consuming Lassi At Kurti Village Under Padia Block, Malkangiri Dist – ओडिशा: साप्ताहिक बाजार में लस्सी पीने से एक ही गांव के 100 से ज्यादा लोग बीमार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, भुवनेश्वर
Published by: संजीव कुमार झा
Updated Sat, 01 May 2021 10:12 PM IST

सार

लस्सी पीने के कुछ घंटे बाद ही इन लोगों को पेट में दर्द और उल्टियां होने लगीं। इस लस्सी के कारण 100 से ज्यादा लोग गांव में बीमार हैं।

ख़बर सुनें

ओडिशा के मलकानगिरी जिले के एक गांव में शनिवार को लस्सी पीने से कई बच्चों समेत 100 से ज्यादा लोग बीमार हो गए। जिले के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी के अनुसार एक हाट में कुर्ती गांव के बच्चे समेत कई लोगों ने दोपहर में लस्सी पी थी। जिसके कुछ घंटे बाद ही इन लोगों को पेट में दर्द और उल्टियां होने लगीं। इस जहरीली लस्सी के कारण 100 से ज्यादा लोग गांव में बीमार हैं। इनमें से 70 से ज्यादा को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा है। वहीं कुछ लोगों को घरों पर ही इलाज दिया जा रहा है।

मलकानगिरी के सीडीएमओ प्रफुल्ल कुमार नंदा ने कहा कि उन्होंने एक मेडिकल टीम को गांव में निरीक्षण करने के लिए भेजा है। नंदा ने वहां की परिस्थिति जानने के लिए गांव का दौरा भी किया। उन्होंने कहा कि प्रथम दृष्टया लगता है कि लस्सी पीने से ग्रामीण बीमार हुए हैं। लस्सी पीने से ग्रामीणों में फूड पॉइजनिंग हुई है।

अफसरों ने बताया कि कुछ बीमारों को घरों पर ही इलाज किया जा रहा है। घटना के कारणों का पता लगाने के लिए जांच करने के लिए विभिन्न चिकित्सा दल भी गांव पहुंचे। मरीजों का इलाज कर रहे डॉक्टर ने कहा कि ज्यादातर ग्रामीणों की हालत स्थिर हो रही है।

 

विस्तार

ओडिशा के मलकानगिरी जिले के एक गांव में शनिवार को लस्सी पीने से कई बच्चों समेत 100 से ज्यादा लोग बीमार हो गए। जिले के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी के अनुसार एक हाट में कुर्ती गांव के बच्चे समेत कई लोगों ने दोपहर में लस्सी पी थी। जिसके कुछ घंटे बाद ही इन लोगों को पेट में दर्द और उल्टियां होने लगीं। इस जहरीली लस्सी के कारण 100 से ज्यादा लोग गांव में बीमार हैं। इनमें से 70 से ज्यादा को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा है। वहीं कुछ लोगों को घरों पर ही इलाज दिया जा रहा है।

मलकानगिरी के सीडीएमओ प्रफुल्ल कुमार नंदा ने कहा कि उन्होंने एक मेडिकल टीम को गांव में निरीक्षण करने के लिए भेजा है। नंदा ने वहां की परिस्थिति जानने के लिए गांव का दौरा भी किया। उन्होंने कहा कि प्रथम दृष्टया लगता है कि लस्सी पीने से ग्रामीण बीमार हुए हैं। लस्सी पीने से ग्रामीणों में फूड पॉइजनिंग हुई है।

अफसरों ने बताया कि कुछ बीमारों को घरों पर ही इलाज किया जा रहा है। घटना के कारणों का पता लगाने के लिए जांच करने के लिए विभिन्न चिकित्सा दल भी गांव पहुंचे। मरीजों का इलाज कर रहे डॉक्टर ने कहा कि ज्यादातर ग्रामीणों की हालत स्थिर हो रही है।

 

Source link