Tech & Travel

Follow for more updates

adar poonawalla explanation Over Coronavirus Vaccine Covishield Production

नई दिल्ली:  इस समय लंदन में मौजूद सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के CEO अदार पूनावाला (Adar Poonawallaa) ने कहा है कि कि कंपनी देश में Covid महामारी की दूसरी लहर के बीच कोविशील्ड (Covishield) का उत्पादन बढ़ाने के लिये हर संभव प्रयास कर रही है. हालांकि उन्होंने यह भी कहा है कि रातों-रात टीके का प्रोडक्शन नहीं बढ़ाया जा सकता है. टीके का प्रोडक्शन एक खास प्रक्रिया होती है, जिसमें समय लगता है. पूनावाला ने यह भी कहा कि भारत की आबादी बहुत बड़ी है और सभी 18+ वालों के लिये पर्याप्त खुराक का उत्पादन करना कोई आसान काम नहीं है.

18+ के लिये पर्याप्त डोज प्रोडक्शन आसान नहीं

कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड (Covishield) बनाने वाली कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के CEO अदार पूनावाला (Adar Poonawallaa) ने कहा है कि सरकार को अगले कुछ महीनों में 11 करोड़ टीकों की आपूर्ति की जाएगी. पूनावाला ने ट्वीट किया है, ‘मैं कुछ चीजों को स्पष्ट करना चाहूंगा क्योंकि मेरे बयान को गलत तरीके से लिया गया है. सबसे पहले, टीका बनाना एक विशेष प्रक्रिया है, इसीलिए रातों-रात उत्पादन बढ़ाना संभव नहीं है. हमें यह भी समझने की जरूरत है कि भारत की आबादी बहुत बड़ी है. ऐसे में सभी 18+ के लिये पर्याप्त खुराक का उत्पादन करना कोई आसान काम नहीं है.’

15 करोड़ से ज्यादा खुराक की आपूर्ति

पूनावाला ने कहा कि यहां तक कि विकसित देश और कंपनियां भी कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) का  प्रोडक्शन बढ़ाने के लिये परेशान हैं जबकि उन देशों की आबादी बहुत कम है. उन्होंने कहा कि पुणे की कंपनी पिछले साल अप्रैल से सरकार के साथ मिलकर काम कर रही है. पूनावाला ने कहा, ‘हमें हर प्रकार का समर्थन मिला है. चाहे वह वैज्ञानिक हो या फिर फाइनेंशियल. अभी की स्थिति के अनुसार हमें 26 करोड़ खुराक के ऑर्डर मिले हैं. इसमें से हम 15 करोड़ से अधिक खुराक की आपूर्ति कर चुके हैं.

11 करोड़ खुराक के लिए सरकार ने किया भुगतान 

पूनावाला ने यह भी कहा है कि हमें भारत सरकार से अगले कुछ महीनों में 11 करोड़ खुराक के लिये 100 प्रतिशत भुगतान यानी 1,725.5 करोड़ रुपये पहले ही मिल चुके हैं.’ उन्होंने कहा कि इसके अलावा अगले कुछ महीनों में 11 करोड़ खुराक राज्यों एवं निजी अस्पतालों के लिये आपूर्ति की जाएगी. पूनावाला ने कहा, ‘…हम इस बात को समझते हैं कि हर कोई जल्दी से जल्दी टीके की उपलब्धता चाहता है. हमारा प्रयास भी यही है और हम इसे हासिल करने के लिये हर संभव कोशिश कर रहे हैं. हम और कठिन मेहनत करेंगे और भारत के Covid-19 महामारी के खिलाफ अभियान को और मजबूत बनाएंगे.’ यह जवाब स्वास्थ्य मंत्रालय के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन आरोपों को खारिज किया गया कि मंत्रालय ने एसआईआई को कोविशील्ड टीके के लिए नये ऑर्डर नहीं दिए हैं.

यह भी पढ़ें: केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत की बेटी योगिता का निधन, कोरोना से थीं संक्रमित

मंत्रालय की तरफ से आया था ये बयान

इससे पहले स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा था कि उसने मई, जून और जुलाई के लिए कोविशील्ड टीके की 11 करोड़ खुराक की आपूर्ति के लिये एसआईआई को 1,732.50 करोड़ रुपए एडवांस भुगतान किए हैं. मंत्रालय ने कहा कि इस राशि पर टीडीएस कटौती के बाद 1,699.50 करोड़ रुपये एसआईआई को 28 अप्रैल को ही प्राप्त हो चुके हैं. मंत्रालय ने कहा इसी तरह भारत बायोटेक इंडिया लिमिटेड (BBIL) को पांच करोड कोवैक्सीन टीके के लिये 28 अप्रैल को ही 787.50 करोड़ रुपये (टीडीएस कटौती के बाद 772.50 करोड़ रुपये) जारी किये जा चुके हैं. टीकों का यह आर्डर मई, जून और जुलाई के लिये दिया गया है. 

LIVE TV

Source link